अमेरिकी में भारतीय छात्र पर हमला, VIDEO:3 हमलावरों ने पीछा किया, लात-घूंसे मारे, फोन चुराया; पत्नी ने विदेश मंत्री जयशंकर को लेटर लिखा

अमेरिकी-में-भारतीय-छात्र-पर-हमला,-video:3-हमलावरों-ने-पीछा-किया,-लात-घूंसे-मारे,-फोन-चुराया;-पत्नी-ने-विदेश-मंत्री-जयशंकर-को-लेटर-लिखा

अमेरिकी में भारतीय छात्र पर हमला, VIDEO:3 हमलावरों ने पीछा किया, लात-घूंसे मारे, फोन चुराया; पत्नी ने विदेश मंत्री जयशंकर को लेटर लिखा

फुटेज में हमलावर भारतीय छात्र का पीछा करते नजर आ रहे हैं।

अमेरिका के शिकागो में एक भारतीय छात्र पर हमला हुआ। हमलावरों ने उसके साथ मारपीट की और उसका फोन चुरा लिया। हमले की वजह फिलहाल सामने नहीं आई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

घटना 4 फरवरी की बताई जा रही है। अब छात्र की पत्नी ने विदेश मंत्री एस जयशंकर को पत्र लिखा है। इसमें मांग की गई है कि छात्र को बेस्ट मेडिकल ट्रिटमेंट मिले।

घटना का एक वीडियो सामने आया है। इसमें 3 हमलावर छात्र का पीछा करते नजर आ रहे हैं। इसके बाद तीनों उस पर लात-घूंसे बरसाते हैं। फोन छीनते हैं और भाग जाते हैं। खून से लथपथ छात्र भी दिख रहा है।

हैदराबाद का रहने वाला सैयद मजाहिर अली मास्टर्स की डिग्री पूरी करने के लिए अमेरिका गया है। यह मामला ऐसे समय सामने आया है जब पिछले एक महीने में चार भारतीय छात्रों की मौत हुई है।

फुटेज भारतीय छात्र सैयद मजाहिर अली मास्टर्स का है। इसमें उसके चेहरे पर खून दिख रहा है। उसके सिर और नाक पर चोट आई है।

छात्र के पत्नी को अमेरिका जाने देने की मांग
इस वीडियों में छात्र मदद मांगता दिखा। उसने कहा- प्लीज हेल्प मी। वीडियो वायरल होने के बाद हैदराबाद में रह रहे मजाहिर के परिवार ने भारत सरकार से मजाहिर की पत्नी को अमेरिकी जाने देने की इजाजत मांगी है। इसको लेकर मजाहिर की पत्नी सैयदा रुकुलिया फातिमा रिजवी ने भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर को लेटर लिखा है।

इसमें कहा- मैं शिकागो में अपने पति की सुरक्षा को लेकर बहुत चिंतित हूं। मेरा आपसे अनुरोध है कि आप उनकी मदद करें जिससे उन्हें बेस्ट मेडिकल ट्रिटमेंट मिल सके। मैं अपने पति के साथ रहने के लिए तीनों नाबालिग बच्चों के साथ अमेरिका जाना चाहती हूं। हो सके तो इसके लिए जरूरी व्यवस्था बनाई जाए।

खाना लेने निकला था छात्र
घटना के बाद कुछ लोग छात्र की मदद के लिए आया। मजाहिर ने उनसे कहा- मैं घर से खाना लेने के लिए निकला था। मैंने खाने का सामन खरीदा और वापस घर जाने लगा। तभी तीन लोग आए और मेरा पीछा करने लगे। उन्होंने मुझ पर हमला कर दिया। भीड़ जमा होने लगी तो फोन लेकर भाग गए।

जनवरी 2024 में 4 भारतीय छात्रों की मौत
जनवरी 2024 से अब तक अमेरिकी में चार भारतीय छात्र- श्रेयस रेड्डी, नील आचार्य, विवेक सैनी और अकुल धवन मारे जा चुके हैं।

2 फरवरी को श्रेयस की मौत ओहायो में हुई। मौत की वजह सामने नहीं आ सकी। न्यूयॉर्क स्थित भारतीय कॉन्सुलेट ने श्रेयस की मौत के बारे में जानकारी देते हुए कहा था- श्रेयस रेड्डी बेनिगर बिजनेस की पढ़ाई कर रहा था। उसकी मौत की खबर से दुखी हैं। इस मामले में पुलिस की जांच चल रही है।

19 साल का श्रेयस रेड्डी बेनिगर हैदराबाद का रहने वाला था।

ठंड की वजह से गई थी अकुल धवन की जान
अकुल धवन का शव 20 जनवरी 2024 को इलिनोइस अर्बाना-शैंपेन यूनिवर्सिटी के बाहर मिला था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक उसकी मौत ठंड लगने की वजह से हुई। रिपोर्ट में कहा गया- अकुल की मौत की वजह हाइपोथर्मिया थी। ये ऐसी स्थिति होती है जिसमें शरीर का तापमान सामान्य से कम हो जाता है।

अकुल धवन के लापता होने की खबर थी। इसके बाद धवन के माता-पिता ने यूनिवर्सिटी पर लापरवाही का आरोप लगाया था।

20 जनवरी को अकुल के लापता होने की खबर मिली थी। इसी दिन उसका शव भी मिला था।

यूनिवर्सिटी कैंपस में मिला था नील आचार्य का शव
28 जनवरी को इंडियाना राज्य में भारतीय छात्र नील आचार्य की मौत हो गई थी। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, उन्हें 28 जनवरी सुबह करीब 11:30 बजे पर्ड्यू यूनिवर्सिटी कैंपस पर एक शव दिखने की खबर मिली थी। इसके बाद पुलिस ने नील की मौत की पुष्टि की थी। वो 12 घंटे से गायब था। उसकी मां गौरी आचार्य ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी थी। उसकी मौत की वजह भी सामने नहीं आई है।

नील की मां ने उसके गायब होने के बाद यह फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की थी। उन्होंने नील को ढूंढने में मदद मांगी थी।

बेघर शख्स ने भारतीय छात्र पर हथौड़े से हमला किया था
करीब 15 दिन पहले ही एक और अमेरिकी राज्य जॉर्जिया में एक भारतीय छात्र विवेक सैनी की हत्या कर दी गई थी। इस मामले की जानकारी रविवार को सामने आई थी। फॉक्स न्यूज के मुताबिक 25 साल के छात्र विवेक के सिर पर एक बेघर शख्स ने हथौड़े से 50 बार वार किया था। विवेक एक फूड मार्ट में काम करता था। उस स्टोर के बाहर एक बेघर शख्स आता था।

घटनास्थल की इस तस्वीर में हाथ में हथौड़ा लिए आरोपी और जमीन पर गिरा खून से लथपथ भारतीय छात्र दिख रहा है।

विवेक और स्टोर के बाकी कर्मचारियों ने इस बेघर शख्स को रहने के लिए जगह दी थी। वह यहीं रहता था, लेकिन 16 जनवरी को विवेक ने जब उसे जगह खाली करने के लिए कहा तो वो गुस्से में आ गया और उसने विवेक की हत्या कर दी। रविवार को पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।

You may have missed