Indore News: नाइट वाक के बाद घर लौटते ही आया साइलेंट अटैक, आंखों में आंसू लिए 12वीं की परीक्षा देने पहुंची बेटी – Indore News Silent attack came as soon as she returned home after night walk daughter came for 12th exam with tears in her eyes

Indore News: 50 वर्षीय रमेश बौरासी को अचानक घबराट हुई। परिवार वाले अस्पताल ले गए तो डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

द्वारा Hemraj Yadav

प्रकाशित तिथि:

मंगलवार, 06 फरवरी 2024 06:11 अपराह्न (IST)

अद्यतन दिनांक:

मंगलवार, 06 फरवरी 2024 06:45 अपराह्न (IST)

Indore News: नईदुनिया प्रतिनिधि, इंदौर। पलासिया थाना क्षेत्र में 50 वर्षीय रमेश बौरासी की हार्ट अटैक से मौत हो गई। बौरासी सोमवार रात खाना खाने के बाद लेटे थे। अचानक घबराहट हुई और उनकी मौत हो गई। बेटी कली की सुबह परीक्षा थी। स्वजन ढांढस बंधा कर परीक्षा दिलाने ले गए।

पलासिया थाना पुलिस के मुताबिक, घटना विनोबा नगर की है। स्वजन ने पुलिस को बताया कि रात को रमेश श्रीनाथ बौरासी ने खाना खाया और टहलने चले गए। थोड़ी देर बाद लौटे और सो गए। अचानक उन्हें घबराहट हुई तो स्वजन अस्पताल ले गए। डाक्टर ने परीक्षण कर मृत घोषित कर दिया। रमेश की बेटी कली 12वीं की परीक्षा दे रही है। मंगलवार को उसका पेपर था। पिता के निधन के बाद उसने परीक्षा देने से मना कर दिया। स्वजन ने ढांढस बंधाया और परीक्षा केंद्र लेकर गए।

पत्नी के इलाज-कर्ज के दबाव में प्लंबर ने लगाई फांसी

इंदौर। प्लंबर ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। उस पर कर्ज था और गर्भवती पत्नी का उपचार भी करवाना था। चंदन नगर पुलिस मर्ग की जांच कर रही है। मंगलवार को शव का पोस्टमार्टम भी करवाया गया। पुलिस के मुताबिक, रामानंद नगर निवासी 23 वर्षीय राजेश पुत्र रेवाराम ठाकुर ने फांसी लगाई है। वह नल फीटिंग का काम करता था। आर्थिक स्थिति कमजोर होने से समूह लोन वालों से कर्ज ले लिया था। करीब तीन साल पूर्व ही राजेश की शादी हुई थी। पत्नी गर्भवती है। डाक्टर ने ज्यादा खर्च बता दिया था। तनाव में सोमवार को राजेश ने फांसी लगा ली।

स्कूल बस के चालक की सड़क हादसे में मौत

इंदौर। तेजाजी नगर थाना क्षेत्र में स्कूल बस के चालक की सड़क हादसे में मौत हो गई। वह साइकिल से ड्यूटी पर स्कूल जा रहा है। पुलिस के मुताबिक, घटना डी-मार्ट के समीप की है। 55 वर्षीय कैलाश बामनिया निवासी रालामंडल रोज की तरह बस के लिए स्कूल जा रहा था। अचानक तेज रफ्तार वाहन ने टक्कर मार दी। सिर में चोट लगने से चालक की मौत हो गई।

  • लेखक के बारे में

    1993 में नवभारत इंदौर में कंप्यूटर ऑपरेटर के रूप में करियर शुरू किया। इसके बाद 1995 में दैनिक भास्कर में प्रूफ रीडर के तौर पर ज्वाइन किया। 1995 में ही सांध्य दैनिक अग्निबाण में भी पेजमेकर के रूप में सेवाएं दी।

You may have missed